मोदी पर अंगुली उठाने वाले भारत के विकास में अवरोधक: सीएम योगी

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने हाथरस में प्रबुद्ध वर्ग सम्मेलन को किया संबोधित

सीएम ने हाथरस से भाजपा उम्मीदवार अनूप वाल्मीकि ‘प्रधान’ को जिताने की अपील की

बोलेः अयोध्या का एयरपोर्ट महर्षि वाल्मीकि के नाम पर रखा गया

प्रबुद्धजनों का आह्वानः आपको नरेंद्र मोदी व अनूप वाल्मीकि बनकर घर-घर जाना होगा

हाथरस, 1 अप्रैलः मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि विकसित भारत, सर्वांगीण विकास ही मोदी की गारंटी है। विकसित भारत में बिना भेदभाव हर व्यक्ति, जाति-समुदाय को सम्मान व आगे बढ़ने का अवसर मिले। बेटी-व्यापारियों को समान सुरक्षा की गारंटी हो, जहां अराजकता नहीं बल्कि कानून का राज हो। जातिवाद-परिवारवाद नहीं, सबका साथ-सबका विकास हो और यही विकसित भारत की परिकल्पना का आधार है। मोदी की गारंटी को हमने जमीनी धरातल पर उतरते देखा है, इसलिए पूरे देश को ‘मोदी की गारंटी’ पर विश्वास है। मोदी पर अंगुली उठाने वाले भारत के विकास में अवरोधक हैं। यह विकसित भारत के मार्ग के बैरियर हैं। हमें इन बैरियर को हटाना होगा और मोदी जी के नेतृत्व में सुरक्षित व समृद्ध भारत की परिकल्पना को साकार करने के लिए कार्य करना होगा।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सोमवार को हाथरस में प्रबुद्ध वर्ग सम्मेलन को संबोधित करते हुए यह बातें कहीं। सीएम ने प्रदेश सरकार के मंत्री व हाथऱस से भाजपा के लोकसभा प्रत्याशी अनूप वाल्मीकि ‘प्रधान’ के लिए जनसमर्थन की अपील की।

आपके पूर्वजों ने सामाजिक स्वावलंबन का उदाहरण दिया
सीएम ने कहा कि हाथरस ब्रज मंडल का प्रवेश द्वार है। पीएम मोदी ने 2020 में आत्मनिर्भर भारत की बात कही। हाथरस, कासगंज, अलीगढ़, मुरादाबाद, आगरा, मथुरा आदि के लोगों ने सैकड़ों वर्ष पहले आत्मनिर्भरता के लक्ष्य को प्राप्त कर लिया था। जब हमने प्रदेश में प्रत्येक जनपद के उत्पाद को प्रोत्साहित करने के लिए ओडीओपी की नीति बनाई तो उसके पीछे मुरादाबाद की पीतल की कारीगरी, अलीगढ़ का हार्डवेयर, हाथरस की हींग, फिरोजाबाद का ग्लास आइटम आदि थे। हस्तशिल्प व हुनर हमारे देने का हिस्सा था। आपके पूर्वजों ने यहां आत्मनिर्भरता के लक्ष्य के माध्यम से सामाजिक स्वावलंबन का उदाहरण देने का कार्य किया।

प्रबुद्धजनों का आह्वान, चुनाव की बागडोर अपने हाथों में लें
सीएम योगी ने कहा कि प्रबुद्धजन समाज को नेतृत्व देते हैं, इसलिए आपका आह्वान करने आए हैं। चुनाव की बागडोर अपने हाथों में लेकर आप यूपी के लक्ष्य के अनुरूप परिणाम देने के लिए मोदी जी को 80 सीटों की जीत की माला दे सकें। प्रबुद्धजन समाज की मान्यता व राय को आवाज देते हैं। अपने ओपिनियन के माध्यम से मार्गदर्शन करते हैं, इसलिए आप पर जिम्मेदारी भी है। आपने बदलते हुए नए भारत का दर्शन किया है। आपने 2014 के पहले की अराजकता देखी है और उसके बाद का एक भारत-श्रेष्ठ भारत भी देखा है। यहां सुरक्षा-समृद्धि, आजीविका व आस्था का सम्मान भी देखा है। भारत का सम्मान 140 करोड़ लोगों का सम्मान है। यहां इंफ्रास्ट्रक्चर के अनेक कार्य हुए हैं। आज विकास हमारी पहचान बन रही है। गरीब कल्याणकारी योजनाओं का कोई सानी नहीं है।

न जाति-न भाषा, सभी को समान रूप से दिया गया योजनाओं का लाभ
सीएम योगी ने कहा कि यह चुनाव फैमिली फस्रट, नेशन फस्रट का है। तुष्टिकरण बनाम भारत की आस्था का चुनाव है। हमें देखना है कि अराजकता, दंगा, कर्फ्यू लगाने वालों के हाथों में फिर सत्ता आएगी या दंगामुक्त, कर्फ्यूमुक्त, सुरक्षित वातावरण देने वाली मोदी की सरकार आएगी, जिसने बिना भेदभाव शासन की योजनाओं का लाभ दिया है। न जाति, न पाति, न क्षेत्र, न भाषा देखी गई, सभी को समान रूप से विकास की योजनाओं का लाभ दिया गया।

आपको नरेंद्र मोदी व अनूप वाल्मीकि बनकर घर-घर जाना होगा
सीएम ने वर्तमान सांसद राजवीर सिंह दिलेर की भी मंच से तारीफ की। बोले कि उनका आशीर्वाद भी अनूप वाल्मीकि के साथ है। पार्टी ने आदेश दिया कि वहां नया प्रत्याशी आएगा तो राजवीर सिंह पार्टी के कार्यकर्ता के रूप में निष्ठा के साथ लग गए। पार्टी ने अनूप वाल्मीकि को प्रत्याशी बनाया है। प्रदेश सरकार में मंत्री होने के कारण मैं उन्हें पूरे प्रदेश में दौड़ाता था। वे पूरी ईमानदारी से कार्य करते रहे। विकास की एक-एक रिपोर्ट हमें उपलब्ध करवाते रहे। योगी ने आह्वान किया कि आप सभी को नरेंद्र मोदी व अनूप वाल्मीकि बनकर घर-घर जाकर वोट मांगना पड़ेगा। बूथों को संभालना पड़ेगा। यहां तीसरे चरण में चुनाव होंगे तो गर्मी भी चढ़ चुकी होगी। हमें मोदी के नेतृत्व में विश्वास करते हुए एनडीए प्रत्याशियों के पक्ष में वोट देने के लिए एक-एक मतदाता को तैयार करना है।

भाजपा है तो सुरक्षा है
सीएम ने कहा कि विधानसभा चुनाव में भी यहां आया था। आपने सभी सीटों पर कमल खिलाया। प्रदेश में भाजपा सरकार है तो सुरक्षा है, विकास है, गरीब कल्याणकारी योजनाएं धरातल पर उतरती दिख रही है। लोगों के मन में अपनत्व का भाव है। धर्माचार्यों की मंशा भी पूरी हो गई। जिसके लिए पीढ़ियां तरस रही थीं, वह कार्य बढ़ा और रामलला अयोध्या में विराजमान हो गए। प्रभु राम के साथ संवाद बनाने का कार्य त्रिकालदर्शी महर्षि वाल्मीकि ने किया। अयोध्या एयरपोर्ट का नाम भी महर्षि वाल्मीकि के नाम पर रखा गया।

इस अवसर पर भाजपा जिलाध्यक्ष शरद माहेश्वरी, प्रदेश सरकार के मंत्री असीम अरुण, हाथरस के वर्तमान सांसद राजवीर सिंह दिलेर, विधायक अंजुला सिंह माहौर, वीरेंद्र राणा, रवींद्र पाल सिंह, राजकुमार सहयोगी, प्रदीप सिंह गुड्डु, विधान परिषद सदस्य चौधरी ऋषिपाल सिंह, जिला पंचायत अध्यक्ष सीमा उपाध्याय, नगर पालिका परिषद अध्यक्ष श्वेता चौधरी आदि उपस्थित रहीं।

About The Author

निशाकांत शर्मा (सहसंपादक)

Learn More →

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *