एक माह बाद भी नाबालिग को बरामद नहीं कर सकी पुलिस,न्याय नहीं मिला तो परिवार के साथ आत्मदाह करेगी पीड़िता


एटा,अलीगंज- पुलिस द्वारा एक माह पूर्व बहला-फुसलाकर भगाई गई नाबालिग किशोरी को पुलिस अभी तक बरामद नहीं कर सकी है। पीडित लगातार थाने के चक्कर लगा रही है, लेकिन उसकी कोई भी नहीं सुन रहा है। पीडिता का कहना है कि उसने पुलिस को सारी जानकारी दे दी है, लेकिन इतना समय बीतने के बाद भ किशोरी बरामद नहीं हो सकी। पुलिस की कार्यवाही से असंतुष्ट पीडिता ने मुख्यमंत्री को प्रार्थना पत्र भेजकर किशोरी को बरामद करवाने की गुहार लगाई है। महिला ने कहा है कि अगर उसको न्याय नहीं मिला तो वह अपने परिवार के साथ आत्मदाह भी कर सकती है।
थाना राजा का रामपुर के एक मोहल्ला निवासी महिला ने प्राथमिकी दर्ज कराते हुए कहा था कि उसकी नाबालिग भतीजी को बीती 29 फरवरी को मोहल्ला कुंजरियान निवासी करन पुत्र रामभरोसे बहला-फुसलाकर भगा ले गया है। महिला ने बताया कि भतीजी के माता-पिता की मृत्यु हो चुकी है और वह किशोरी की परवरिश कर रहे थे।
तहरीर के आधार पर कोतवाली पुलिस ने प्राथमिकी दर्ज कर ली थी, लेकिन एक माह बीत जाने के बाद भी किशोरी का कोई सुराग नहीं लग सका है। पीडिता का कहना है कि उसको पुलिस ने कई बार थाने बुलाया और सारी जानकारी दे दी, लेकिन किशोरी अभी तक बरामद नहीं हो सकी है। महिला ने आरोप लगाते हुए कहा कि पुलिस की शिथिल कार्यप्रणाली के चलते किशोरी बरामद नहीं हो पा रही है। एक माह से थाने के चक्कर लगाकर परेशान महिला ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को प्रार्थना पत्र भेजकर पुत्री को बरामद करवाने की गुहार लगाई है। महिला ने कहा है कि अगर उसको न्याय नहीं मिला तो वह अपने परिवार के साथ आत्मदाह भी कर सकती है।
सीओ सुघांशु शेखर का कहना है कि पुलिस की टीमें किशोरी को बरामद करने के लिए लगी हुई है। सर्विवांस टीम की मदद ली जा रही है। जल्द ही किशोरी को बरामद कर लिया जाएगा।

About The Author

निशाकांत शर्मा (सहसंपादक)

Learn More →

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *