जनपद के गेहूं क्रय केंद्रों पर गेहूं खरीद का हुआ शुभारंभ

क्रय केंद्र पर आने वाले किसान भाइयों का माला पहनाकर किया गया भव्य स्वागत

एटा, 03 अप्रैल 2024 (सू0वि0)। रबी विपणन वर्ष 2024-25 में मूल्य समर्थन योजना के अन्तर्गत गेहूँ क्रय नीति के अनुसार किसानों को सरकारी क्रय केन्द्रो पर गेहूँ बेचने हेतु विभागीय पोर्टल www.fcs.up.gov.in पर पंजीकरण कराना अनिवार्य होगा। यह पंजीयन कृषक स्वंय अथवा जनसूचना केन्द्र के माध्यम से अथवा साइबर कैफे व राजकीय क्रय केन्द्र के माध्यम से कराया जा सकेगा। ऑनलाइन पंजीकरण, कृषकों के भूलेख, आधार संख्या एवं पंजीकरण के समय कृषक के मोबाइल नम्बर पर प्रेषित ओ०टी०पी० के आधार पर किया जायेगा। आधारलिंक बैंक एकाउंट का पी०एफ०एम०एस० पोर्टल से सत्यापन के उपरान्त ही पंजीकरण पूर्ण माना जायेगा। शासन द्वारा दिये गये निर्देशानुसार वर्ष 2024-25 हेतु गेहूँ का समर्थन मूल्य 2275/प्रति कुन्तल निर्धारित किया गया हैं तथा कृषकों उत्तराई छनाई के मद में 20/- रुपये प्रति कुन्तल सम्मिलित करते हुए 2295/- का भुगतान किया जायेगा।

जनपद एटा में इस वर्ष समस्त क्रय संस्थाओं के कुल 84 गेहूँ क्रय केन्द्र स्थापित किये गये हैं। शासन द्वारा जनपद हेतु 101300 मी०टन लक्ष्य निर्धारित किया गया हैं। जनपद में अभी तक 2168 कृषकों द्वारा पोर्टल पर गेहूँ विक्रय हेतु पंजीकरण कराया गया हैं एवं पंजीकरण में प्रगति लाये जाने हेतु समस्त न्याय पंचायतों में कर्मचारियों की ड्यूटी लगायी गयी है कि वह कृषक से सम्पर्क कर गेहूँ विक्रय हेतु पंजीकरण करायें तथा प्रत्येक केन्द्र प्रभारी को प्रतिदिन 10 कृषकों के पंजीकरण कराये जाने के निर्देश जारी किये जा चुके हैं। गेहूँ खरीद नियंत्रण कक्ष जिला खाद्य विपणन अधिकारी, एटा के कार्यालय में स्थापित किया गया हैं. जिसका दूरभाष संख्या 05742-238735 एवं मोबाइल संख्या-9027250734 हैं।

जिला खाद्य विपणन अधिकारी नंदकिशोर ने अवगत कराया कि बुधवार को मण्डी समिति एटा में स्थित गेहूँ क्रय केन्द्र पर कृषक महीपाल सिंह का 40 कुन्तल क्रय किया गया एवं माला और शॉल पहनाकर स्वागत किया गया हैं। इसी प्रकार जलेसर मण्डी में खाद्य विभाग के गेहूं क्रय केन्द्र पर कृषक श्री पन्ना लाल से 10 कुन्तल गेहूँ क्रय किया गया एवं कृषक को मिठाई खिलाकर और माला पहनाकर स्वागत किया गया है। अतः समस्त कृषक नाईयों से अनुरोध है कि न्यूनतम समर्थन मूल्य योजना का अधिक से अधिक लाभ प्राप्त करने हेतु अपना गेहूँ केन्द्र पर साफ करके एवं सुखाकर लायें। इस अवसर पर मंडी सचिव अरुण कुमार, किसान भाई आदि मौजूद रहे।

About The Author

निशाकांत शर्मा (सहसंपादक)

Learn More →

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *