रात के अंधेरे में हो रहा है सोन नदी से बालू का खनन

रात के अंधेरे में हो रहा है सोन नदी से बालू का खनन

अचार संहिता लगने के बाद अवैध खननकर्ताओं में खनन की लगी होड़

सोनभद्र
चोपन/ सोनभद्र – कहा जाता है कि जिसके मुंह एक बार खुन लग जाता है फिर उसको कुछ भी अच्छा नहीं लगता है जी हां प्रदेश में भले ही योगी सरकार लाख दावे कर ले लेकिन थाना क्षेत्र अंतर्गत चोपन गांव में सोन नदी से बालू का खनन एक बार फिर चर्चा में है जैसे ही अचार संहिता लागू हुआ उसके चंद घंटों बाद ही अवैध खनन कर्ताओं को मानो जैसे मागी मुराद मिल गई हो सुत्रो की मानें तो पूर्व से ही बालू खनन में लिप्त एक तथाकथित द्वारा रात्रि बारह बजे के बाद चोपन गांव सोन नदी से टिपर के माध्यम से बालू खनन का कार्य जोरों पर किया जा रहा है जिससे स्थानीय वन विभाग एवं पुलिस विभाग का संरक्षण प्राप्त होने की चर्चा जोरों पर है बताया जाता है कि उक्त तथाकथित खनन कर्ता अवैध बालू खनन को लेकर अच्छा खासा विभागीय पकड़ रखता है जिसके चलते संबंधितों का हमेशा कृपापात्र बना रहता है चर्चाओं की मानें तो विगत दो सप्ताह से सोन नदी में धड़ल्ले से टिपर से बालू खनन किया जा रहा है और परिवहन किया जा रहा है अब देखना होगा कि क्या स्थानीय प्रशासन कुछ करती है या फिर मुदहुं आंख कतहुं कुछ नाही के तर्ज पर रहती है|वहीं जब इस बाबत डाला रेंजर से बात की गई तो उन्होंने कहा कि

About The Author

निशाकांत शर्मा (सहसंपादक)

Learn More →

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *