युसूफ पठान के खिलाफ चुनाव आयोग गई थी कांग्रेस

*युसूफ पठान के खिलाफ चुनाव आयोग गई थी कांग्रेस*
*कांग्रेस ने आरोप लगाया कि पठान ने* *2011 क्रिकेट विश्व कप जीतने के क्षण को एक चुनाव अभियान बैनर के रूप में इस्तेमाल किया*

चुनाव आयोग ने सचिन तेंदुल्कर की तस्वीर इस्तेमाल करने के लिए युसूफ पठान को फटकार लगाई है। बता दें टीएमसी उम्मीदवार पठान वर्ल्ड कप वाले क्षण से जुड़ी तस्वीर के साथ प्रचार कर रहे थे।
लोकसभा चुनाव 2024 की चुनावी बिसात सज जुकी है। सियासी पार्टियों के उम्मीदवार भी मैदान में आ गए हैं और जनता को लुभाने की हर कोशिश कर रहे हैं। पश्चिम बंगाल के बहरामपुर से तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) के उम्मीदवार युसूफ पठान ने क्रिकेट वर्ल्ड कप जीत के क्षण और पूर्व भारतीय क्रिकेटर सचिन तेंदुलकर के साथ अपनी तस्वीरों को लेकर चुनाव प्रचार करते दिखाई दिए। युसूफ पठान के ऐसा करने से पश्चिम बंगाल में सियासत गरमा गई है। युसूफ पठान के इस चुनाव प्रचार की शिकायत चुनाव आयोग से की गई थी। जिसके बाद आयोग ने क्रिकेट विश्व कप जीतने वाले क्षण के उपयोग पर प्रतिबंध लगा दिया है। चुनाव आयोग के मुताबिक, 2011 वर्ल्ड कप जीतने के पल की तस्वीरें चुनाव प्रचार में इस्तेमाल नहीं की जा सकती। एबीपी आनंदा की रिपोर्ट की मानें तो बहरामपुर टीएमसी प्रत्याशी के प्रचार में फोटो विवाद को लेकर चुनाव आयोग ने जिला तृणमूल की निंदा की है।
चुनाव आयोग ने मांगा था जवाब
युसूफ पठान द्वारा किए जा रहे चुनाव प्रचार के खिलाफ मिली सभी शिकायतों को देखते हुए चुनाव आयोग ने मुर्शिदाबाद के जिलाधिकारी से रिपोर्ट मांगी थी। जिला मजिस्ट्रेट कार्यालय के सूत्रों के मुताबिक, उन्होंने पूछा है कि सचिन की तस्वीर का इस्तेमाल क्यों किया गया है, क्या इसके लिए कोई वैध अनुमति है या नहीं। इसके बाद जिलाधिकारी कार्यालय से सूचना भेजकर उस संस्था की जानकारी मांगी गई, जिससे फ्लेक्स और बैनर बनाए गए थे।
युसूफ पठान ने दी सफाई
आनंद बाजार पत्रिका के मुताबिक, युसूफ के चुनाव एजेंट और फ्लेक्स निर्माता कंपनी से अगले सप्ताह के भीतर जवाब मांगा गया था। इस संबंध में युसूफ ने कहा, “मेरे कानूनी सलाहकार इस संबंध में जवाब देंगे। मुझे भारत के लिए खेलने पर गर्व है। मुझे नहीं लगता कि अगर गौरव के उस क्षण को उजागर किया जाता है तो इसमें कोई अन्याय है।”
युसूफ पठान के खिलाफ चुनाव आयोग गई थी कांग्रेस
कांग्रेस ने आरोप लगाया कि पठान ने 2011 क्रिकेट विश्व कप जीतने के क्षण को एक चुनाव अभियान बैनर के रूप में इस्तेमाल किया। कथित तौर पर उन्होंने वहां ‘भारत रत्न’ सचिन जैसी शख्सियतों की तस्वीरें इस्तेमाल की हैं, जो आदर्श आचार संहिता का उल्लंघन है। प्रदेश कांग्रेस ने इस संबंध में चुनाव आयोग से संपर्क किया था। आयोग को दी गई चार्जशीट में कांग्रेस ने कहा कि विश्व कप जीतना पूरे देश के लिए गर्व का क्षण था। इस क्षण का उपयोग राजनीतिक लाभ के लिए नहीं किया जाना चाहिए। आयोग द्वारा जिला मजिस्ट्रेट से रिपोर्ट मांगे जाने पर प्रांत अध्यक्ष अधीर चौधरी ने कहा, “अगर देश के महत्वपूर्ण लोगों की तस्वीरों का इस्तेमाल उनकी अनुमति से नहीं किया जाता है, तो यह निश्चित रूप से आचार संहिता का उल्लंघन है।”

About The Author

निशाकांत शर्मा (सहसंपादक)

Learn More →

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *