चौथा महाधिवेशन एवं रजत जयंती कार्यक्रम पहाड़िया स्थित एक होटल में आयोजित

यूनियन बैंक अन्य पिछड़ा वर्ग कर्मचारी कल्याण संघ, उत्तर प्रदेश का चौथा महाधिवेशन एवं रजत जयंती कार्यक्रम पहाड़िया स्थित एक होटल में आयोजित किया गया।

महाधिवेशन का उद्घाटन राष्ट्रीय पिछड़ा वर्ग आयोग के माननीय सदस्य श्री बी० बी० कमल द्वारा किया गया। इस अवसर पर अखिल भारतीय अन्य पिछड़ा वर्ग कर्मचारी कल्याण संघ के अध्यक्ष श्री जी० करुणानिधि, यूनियन बैंक लखनऊ से महाप्रबंधक श्री सुमित श्रीवास्तव एवं वाराणसी के महाप्रबंधक श्री गिरीश जोशी, वाराणसी के पुलिस उपायुक्त श्री विक्रांत वीर, आयकर उप निदेशक जांच श्री अरविंद चौहान, वाराणसी, वाराणसी के क्षेत्र प्रमुख श्री संसार चंद, गाजीपुर के क्षेत्र प्रमुख श्री के०डी० गुप्ता, जौनपुर के क्षेत्र प्रमुख श्री शैलेन्द्र कुमार, चंदौली के क्षेत्र प्रमुख श्री संजीव कुमार आदि उपस्थित हुए। कार्यक्रम के मुख्य वक्ता श्री जी० करुणानिधि थे।

अपने सम्बोधन में श्री बी० बी० कमल ने कहा कि भारत सरकार द्वारा अन्य पिछड़े वर्गों के हितों के लिए कई योजनाएं लागू की जा रही है। वर्ष 2017 में राष्ट्रीय पिछड़ा वर्ग आयोग को संवैधानिक दर्जा दिए जाने से संकेत स्पष्ट है कि भारत सरकार अन्य पिछड़े वर्गों के लिए किसी भी प्रकार की लापरवाही को स्वीकार नहीं करेगी। म इस आयोजन के सूत्रधार डॉ० अमृतांशु और श्री जी०. करुणानिधि को आश्वस्त करना चाहता हूँ कि मेरे हस्तक्षेप से जो भी ओबीसी कार्मिकों के लिए कल्याण हेतु बेहतर हो सकता है, उसे अवश्य करुगा।

श्री जी० करुणानिधि ने अपनी मांगो को रखते हुए कहा कि हमारी मांग ओबीसी को प्रोन्नति में आरक्षण को लागू करना।

करना, वित्त मंत्रालय के डीएफएस विभाग के निर्देश पत्र दिनांक 6/10/2017 को वापस करना, सार्वजनिक

उपक्रम जैसे बैंक एलआईसी, रेलवे आदि के निजीकरण समाप्त करने पूरे भारत में जाति जनगणना कराए जाने

निजी क्षेत्र में आरक्षण लागू करना और क्रिमी लेयर को समाप्त करने की है।

महासचिव डॉ० अमृतांशु ने कहा कि भारत सरकार से की गई मांगों के साथ ही यूनियन बैंक प्रबंधन से हमारी मांग है कि केन्द्रीय कार्यालय, अंचलीय कार्यालय एवं क्षेत्रीय कार्यालय स्तर पर ओबीसी संगठन को भी अन्य संगठनों की तरह प्रबंधन के साथ संगठनों की तरह ही प्रबंधन के साथ तिमाही वार्ता सुनिश्चित की जाए। साथ ही प्रबंधन द्वारा ओबीसी संगत की ओर से उठाए गए आवश्यक मुद्दों को सौहार्दपूर्ण स्तर पर निपटाया जाए।

महाधिवेशन को महाप्रबंधक श्री गिरीश जोशी, श्री सुमीत श्रीवास्तव, पुलिस उपआयुक्त श्री विक्रांत वीर, आय उप निदेशक-जांच श्री अरविंद चौहान, उपमहाप्रधक श्री एस0के0 सिंह, संगठन के अध्यक्ष श्री विनोद प्रसाद ने संबोधित किया। मंच का संचालन श्री रवीन्द्र राम ने एवं धन्यवाद ज्ञापन श्री दिलीप कुमार कनौजिया ने किया।

About The Author

निशाकांत शर्मा (सहसंपादक)

Learn More →

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *