सीता के मायके से दामाद रामलला के लिए ट्रकों में भरकर आया उपहार

रामनाम का मचा है शोर, चलो अयोध्या की ओर:निभाया ससुराल का फर्ज, मां सीता के मायके से दामाद रामलला के लिए ट्रकों में भरकर आया उपहार

अयोध्या।रामनगरी अयोध्या में भव्य राम मंदिर में 22 जनवरी को रामलला की प्राण प्रतिष्ठा होगी।रामलला की प्राण प्रतिष्ठा की जितनी खुशी देश में हैं,उतनी ही खुशी नेपाल में भी है। माना जाता है कि मां सीता का जन्म नेपाल के जनकपुरी में हुआ था।मां सीता मिथिला की थीं।ऐसे में मिथिलावासी रामलला को अपना दामाद मानते हैं और मां सीता को अपनी बेटी।जैसे-जैसे रामलला के प्राण प्रतिष्ठा की तारीख नजदीक आ रही है, नेपाल और जनकपुरी में भी इसे लेकर उत्साह बढ़ता जा रहा है।

बता दें कि नेपाल के जनकपुर के लोग अपनी बेटी सीता के ससुराल से लगभग 2 हजार लोग रामनगरी अयोध्या पहुंचे हैं।साथ में कई ट्रक भरकर अपने जीजा और दामाद रामलला के लिए उपहार भी लाए हैं।ये सभी अपने साथ सोना-चांदी, मेवा, कपड़े समेत कई तरह से उपहार लाए हैं।इन उपहारों में गृहस्थी का सामान भी मौजूद है।नेपाल से अभी तक 8 बस, 6 ट्रक और 51 गाड़ियां रामनगरी अयोध्या आ चुकी हैं। इनमें जनकपुरी और नेपाल के दूसरे हिस्सों से आए हुए लोग भी हैं तो वही रामलला के लिए उपहार भी हैं। इनके साथ जनकपुरी के महंत राम रोशन दास भी आए हैं।

जनकपुरी के महंत का कहना है कि हम सभी लोग अपनी दीदी सीता के घर से जीजा श्रीराम की अयोध्या नगरी में आए हैं।अयोध्या त्रेता युग की तरह लग रही है।गृहस्थी के लिए दीदी का जो भी सामान जरूर होता है वह सभी हम लेकर आए हैं।
साथ में आई महिलाओं का कहना है कि अब हमारी दीदी इतने सालों बाद श्रीराम के साथ अपने घर में प्रवेश करने जा रही हैं, हमारे लिए इससे खुशी की बात और क्या ही होगी।

About The Author

निशाकांत शर्मा (सहसंपादक)

Learn More →

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Enable Notifications OK No thanks